मिस्र के पिरामिड के हैरतअंगेज!! राज जाने क्यों हैं इतने ख़ास ?

मिस्र के पिरामिड के हैरतअंगेज राज !! जाने क्यों हैं इतने ख़ास?

by New RADIANT EDUCATION

भारत की तरह ही मिस्र की सभ्यता भी बहुत पुरानी है और प्राचीन सभ्यता के अवशेष वहाँ की गौरव गाथा कहते हैं। यों तो मिस्र में १३८ पिरामिड हैं और काहिरा के उपनगर गीज़ा में तीन लेकिन सामान्य विश्वास के विपरीत सिर्फ गिजा का ‘ग्रेट पिरामिड’ ही प्राचीन विश्व के सात अजूबों की सूची में है। दुनिया के सात प्राचीन आश्चर्यों में शेष यही एकमात्र ऐसा स्मारक है जिसे काल प्रवाह भी खत्म नहीं कर सका।

क्या है मिस्र के पिरामिडों का रहस्य ?

प्राचीन मिस्रवासियों की धारणा थी कि राजा किसी देवता का वंशज है, अत: वे उसी रूप में उसे पूजना चाहते थे. मृत्यु के बाद राजा दूसरी दुनिया में अन्य देवताओं से जा मिलता है, इस के चलते राजा का मकबरा बनाया जाता था और इन्हीं मकबरों का नाम पिरामिड रखा गया था !

ममी किसे कहते हैं और क्यों बनाई जाती थीं ?

मिस्र के पिरामिड वहां के तत्कालीन फैरो गणों के लिए बनाए गए स्मारक स्थल हैं, जिनमें राजाओं के शवों को दफनाकर सुरक्षित रखा गया है। इन शवों को ममी कहा जाता है। उनके शवों के साथ खाद्यान, पेय पदार्थ, वस्त्र, गहनें, बर्तन, वाद्य यंत्र, हथियार, जानवर एवं कभी-कभी तो सेवक सेविकाओं को भी दफना दिया जाता था।

मिस्त्र पिरामिड और ममी से जुड़े अनसुलझे रहस्य क्या है? - Quora
फैरो गणों के शवों को ममी कहा जाता है

मिस्र के पिरामिड के हैरतअंगेज राज-

1. वैसे तो मिस्त्र में 138 पिरामिड हैं , पर इन में से गिजा का ‘ Great Pyramid ‘ ही प्राचीन विश्व के सात अजूबों की सुची में है । बाकी के 6 अजूबें काफी हद तक क्षतिग्रस्त हो चुके हैं पर ग्रेट पिरामिड का केवल ऊपर का 10 मीटर का हिस्सा ही गिरा है । इस पिरामिड के पास दो और पिरामिड भी हैं जो इससे छोटे हैं ।

2. गीजा का ‘ Great Pyramid ‘ 450 फुट ऊँचा है । 4300 सालों तक यह दुनिया की सबसे ऊँची संरचना रहा , पर 19 वी सदी में इसका यह रिकार्ड टुट गया ।

मिस्र के पिरामिड के हैरतअंगेज!! राज -image 1
मिस्र के पिरामिड के हैरतअंगेज!! राज -image 1

3. गीजा के ‘ ग्रेट पिरामिड ‘ को बनाने के लिए लगभग 30 लाख मजदूरों ने 23 साल तक काम किया ।

4. गीजा के ‘ Great Pyramid ‘ में 23 लाख चुना पत्थरों का प्रयोग किया गया । इन टुकड़ों में से हर एक का वज़न 2 से लेकर 30 टन तक का है । इस पिरामिड का आधार 13 एकड़ जमीन में फैला हुआ है ।

5. गीजा के ‘ ग्रेट पिरामिड ‘ को 2560 ईसा पूर्व मिस्त्र के शास्क खुफु के चोथे वंश द्वारा अपनी कब्र के तौर पर बनाया गया था ।

6. ‘ Great Pyramid ‘ को सिर्फ 23 साल में बनाने को लेकर कई तरह के सवाल है । एक पिरामिड वैज्ञानिक ने गणना कर हिसाब लगाया कि यदि यह केवल 23 वर्षों में बना है तो कई हज़ार मजदूरों को साल के 365 दिनों में हर दिन 10 घंटे काम करना पड़ेगा और एक घंटे में 30 टुकड़ों को रखना होगा । लेकिन क्या 1 घंटे में 2 से लेकर 30 टन तक के 30 टुकड़ों को रखना संभव था ।

7. क्या आप जानते हैं इन पिरामिडो को बनाने की तकनीक के बारे में अब तक कुछ भी पता नही चला है । वैज्ञानिक कई सालों से इस बात को जाने में लगे है लेकिन कोई सफलता नही मिली ।

8. पिरामिडों को बनाने वाले पत्थरों को आपस में इस तरह से फिट किया गया कि उनमें से किसी दो की बीच एक ब्लेड भी नही घुसाई जा सकती ।

9. ‘ ग्रेट पिरामिड ‘ के भीतर का तापमान हमेशा 20 डिग्री सेल्सियस के बराबर रहता है , चाहे बाहर का तापमान कितना भी हो ।

10. ‘ ग्रेट पिरामिड ‘ के केंद्र में राजा खुफु के शरीर को छोड़कर क्या है यह अब तक पता नही चला । एक फ्रांसीसी वास्तुविद पीयरे ने दावा किया है कि 4500 साल पहले बने इस पिरामिड के केंद्र में दो कमरे स्थित हैं । इन कमरों में फर्चीनर लगे हुए जो राजा खुफु के शरीर को रखने के बाद लगाए गए ।

11. वैज्ञानिक प्रोयोगो द्वारा यह प्रमाणित हो गया है कि पिरामिड के अंदर विलक्षण किस्म की उर्जा तरंगे लगातार काम करती रहती है जो सजीव और निर्जाव दोनो ही प्रकार की वस्तुओं पर प्रभाव डालती हैं । वैज्ञानिक इसे ‘ पिरामिड पॉवर ‘ कहते है ।

12. पिरामिड के अंदर बैटने से सिर दर्द एवं दांत दर्द से छुटकारा मिल जाता है ।

मिस्र के पिरामिड के हैरतअंगेज!! राज -image 3
मिस्र के पिरामिड के हैरतअंगेज!! राज -image 3

13. घाव छाले , खरोच आदि पिरामिड के अंदर बैठने से बहुत जल्दी ठीक हो जाते हैं ।

14. एक प्रयोग के दौरान कुत्तों को चौकोर , गोल और पिरामिड के आकार के घरों में रखा गया । प्रयोग के बाद यह पाया गया कि पिरामिड के आकार के घरों में रहने वाले कुत्ते अधिक आज्ञाकारी , और समझदार निकले और उनकी सेहत भी अच्छी हो गई ।

मिस्र के पिरामिडो के बारे में हम जैसे जैसे रिसर्च कर रहे है तो रोज नए नए राज सामने आ रहे हैं अभी तक वैज्ञानिको ने जो जो निष्कर्ष निकाले हैं वो सभी इतिहास की विवेचनाओं पर आधारित है …मिस्र के पिरामिड और न जाने कितने राज अपने अंदर समेटे हुए बैठे है …..किसे पता …….??

उम्मीद है की आपको ये पोस्ट पसंद आयी होगी

One comment

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.