branches of science study-vigyan ki pramukh shakhayein

share with your friends-

नमस्कार दोस्तों आप सभी का इस पोस्ट में स्वागत है आज हम लेकर आये है आपके लिए science से related post. जिसमे हम जानेंगे की किस विषय से सम्बंधित किस शाखा को क्या कहते हैं तो एक डायरी और पेन लेकर बैठ जाईये और शुरु करते हैं.

सामान्य ( General विज्ञान की परिभाषा : विज्ञान वह सुसंबद्ध एवं क्रमबद्ध ज्ञान है , जो प्रयोग , परीक्षण एवं निष्कर्ष पर आधारित होता है । प्रौद्योगिकी वह अनुक्रिया है जिसके द्वारा विज्ञान के नियमों का क्रियान्वयन ( Implementation ) किया जाता है । शुद्ध विज्ञान ( Pure Science ) का अभिप्राय प्राकृतिक विज्ञान से होता है जिसमें प्रकृति के नियमों का अध्ययन किया जाता है । चूंकि प्रकृति के नियम सार्वभौमिक ( Universal ) होते हैं , इसलिए विज्ञान में सटीक भविष्यवाणी करना सम्भव होता है । शुद्ध विज्ञान या प्राकृतिक विज्ञान के अन्तर्गत भौतिक शास , रसायन शास , जीव – विज्ञान , खगोलिकी ( Astronomy ) इत्यादि का अध्ययन किया जाता है ।

Advertisements
Branches of Science | Good Science
Branches of science graphic organizer (With images) | Branches of ...
विज्ञान की प्रमुख शाखाएँ ( Key Branches of Science )
Advertisements
page 1
  1. एकाउस्टिक्स ( Acoustics ) : इसके अंतर्गत ध्वनि एवं उसके . प्रभावों का अध्ययन किया जाता है ।
  2. एग्रोनॉमिक्स ( Agronomics ) : भूमि व फसलों के प्रबन्धन ( Management ) का अध्ययन ।
  3. एग्रोस्टोलॉजी ( Agrostology ) : घासों के अध्ययन का विज्ञान ।
  4. ऐल्केमी ( Alchemy ) : मानव को अमर बनाने के लिए अमृत की खोज का विज्ञान ।
  5. एनाटॉमी ( Anatomy ) : जीवधारियों के शरीर की आन्तरिक संरचना के अध्ययन का विज्ञान ।
  6. एन्थोपोलॉजी ( Anthropology ) : मानव की उत्पत्ति एवं विकास का वैज्ञानिक अध्ययन ।
  7. एपीकल्चर ( Apiculture ) : मधुमक्खी पालन का विज्ञान ।
  8. आर्बोरीकल्चर ( Artoriculture ) : वृक्षों के उगाने से संबंधित समस्त प्रक्रियाओं का अध्ययन ।
  9. अर्कियोलॉजी ( Archeylogy ) : इसे हिन्दी में पुरातत्व विज्ञान कहा जाता है । इसके अंतर्गत प्राचीन स्मारकों , अभिलेखों , खुदाई से प्राप्त वस्तुओं , इत्यादि का अध्ययन किया जाता है ।
  10. एस्ट्रॉनोमी ( Astronomy ) : इसे खगोल विज्ञान भी कहा जाता है । इसके अंतर्गत विभिन्न खगोलीय पिण्डों की रचना एवं गति का अध्ययन किया जाता है ।
  11. बैक्टीरियोलॉजी ( Bactereology ) : जीवाणुओं की संरचना तथा उनके द्वारा उत्पन्न रोगों का अध्ययन ।
  12. जैव रासायनिकी ( Bio chemistry ) : जीवों के शरीर में होने वाली रासायनिक अभिक्रियाओं का अध्ययन
  13. जैवमिति ( Biometry ) : वह विज्ञान जिसमें जीवविज्ञान का . अध्ययन गणित व सांख्यिकी की तकनीकों द्वारा किया जाता है ।
  14. बायोनिक्स ( Bionics ) : जन्तुओं के तंत्रिका तंत्र ( Nervous System ) के अध्ययन का विज्ञान ।
  15. बायोनॉमिक्स ( Bionomics ) : जीवधारियों का उनके वातावरण के साथ सम्बन्ध का अध्ययन ।
  16. बनस्पति विज्ञान ( Botany ) : पाँचों के जीवन से संबंधित प्रत्येक विषय का अध्ययन ।
  17. मृतिका शिल्प ( Ceramics ) : इसमें कांच व चीनी मिट्टी के बर्तन आदि बनाने की विधियों का अध्ययन किया जाता है ।

Advertisements
page 2
  1. रसायन विज्ञान ( Chemistry ) : पदार्थों की संरचना तथा उनकी पारस्परिक क्रियाओं का सम्पूर्ण अध्ययन ।
  2. कीमोथेरेपी ( Chemotherapy ) : रासायनिक यौगिकों के प्रयोग द्वारा रोगों का निरोध एवं उनके उपचार करने की विधियों का अध्ययन ।
  3. कीमोमेट्रिक्स ( Chemometrics ) : गणितीय तथा सांख्यिकीय विधियों द्वारा रसायन विज्ञान की समस्याओं का अध्ययन ।
  4. क्रोमैटोग्रॉफी ( Chromatography ) : यौगिकों के शोधन , किसी मिश्रण के अवयवों का पृथक्करण , उससे रंगों को अलग करने संबंधित विज्ञान ।
  5. क्रोनोबायोलॉजी ( Chronobiology ) : जीवन की अवधि ( Du ration of life ) से संबंधित विज्ञान
  6. कॉन्कोलॉजी ( Conchology ) : मोलस्का वर्ग ( शंख , सीपी , कौड़ियों आदि ) के जंतुओं के बाह्य आवरण ( Shell ) के अध्ययन का विज्ञान
  7. कॉसमोलॉजी ( Cosmology ) : ब्रह्माण्ड की संरचना , उत्पत्ति , विकास आदि का अध्ययन ।
  8. सृष्टि विज्ञान ( Cosmogony ) : विश्व की उत्पत्ति एवं विकास के अध्ययन का विज्ञान ।
  9. क्रायोजेनिक्स ( Cryogenics ) : इसे हिन्दी में निम्नतापिकी कहते हैं । इसके अंतर्गत अतिनिम्न ताप की उत्पत्ति , नियंत्रण एवं उसके अनुप्रयोगों का अध्ययन किया जाता है ।
  10. कोशिका विज्ञान ( Cytology ) : कोशिकाओं ( Cells ) के अध्ययन का विज्ञान ।
  11. अंगुलिछाप विज्ञान ( Dactylography ) : इसमें व्यक्तियों के अंगुलिछाप ( Finger Print ) जो प्रत्येक व्यक्तियों का अलग – अलग होता है . का अध्ययन किया जाता है ।
  12. डेन्ड्रोक्रोनोलॉजी ( Dendrochronology ) : इसके अंतर्गत पेड़ों की वृद्धि वलयों ( Growth rings ) का अध्ययन कर उनकी आयु की गणना करने की विधियों का अध्ययन किया जाता है ।
  13. पारिस्थितिकी ( Ecology ) : इसके अंतर्गत जीवधारियों पर उनके चारों ओर के पर्यावरण के प्रभावों का अध्ययन किया जाता है ।
  14. कीट – विज्ञान ( Entomology ) : कीटों ( Insects ) के सम्पूर्ण अध्ययन का विज्ञान ।
  15. एपिडेमिलॉजी ( Epidemilogy ) : इसके अंतर्गत फैलने वाले महामारियों ( Epidemics ) जैसे — प्लेग , हैजा , चेचक , आदि का अध्ययन किया जाता है ।
  16. एपीनॉफी ( Epigraphy ) : इसमें शिलालेख संबंधी विषयों का अध्ययन किया जाता है ।
  17. व्यवहार विज्ञान ( Ethology ) : मानव सहित सभी जन्तुओं के व्यवहार का अध्ययन ।
  18. सुजनिकी ( Eugenics ) : मनुष्य की संतति के विकास व नस्ल सुधार से सम्बन्धित विधियों का अध्ययन ।
  19. यूफेनिक्स ( Euphenics ) : प्रोटीन – संश्लेषण प्रक्रिया में सुधार से मानवजाति में सुधार का अध्ययन ।
  20. यूथेनिक्स ( Euthenics ) : अच्छे पोषण द्वारा मानव जाति में सुधार का अध्ययन
Advertisements
Advertisements

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

page 3

  1. आनुवंशिकी ( Genetics ) : जीन के सभी क्रिया – कलापों के . अध्ययन का विज्ञान ।
  2. जीरोन्टोलॉजी ( Gerontology ) : वृद्धावस्था से संबंधित अध्ययन का विज्ञान ।
  3. ग्लॉसोलॉजी ( Glossology ) : जीभ ( Tongue ) का अध्ययन ।
  4. गॉयनेकोलॉजी ( Gynaecology ) : स्त्री के प्रजनन अंग ( Re productive organ ) के अध्ययन का विज्ञान ।
  5. जेनेसियोलॉजी ( Genesiology ) : पीढ़ियों के अध्ययन संबंधित विज्ञान ।
  6. आनुवंशिक अभियांत्रिकी ( Genetic Engineering ) : जीन यांत्रिक विधि से जीव के नस्ल सुधार में परिवर्तन के अध्ययन का विज्ञान ।
  7. हैमेटोलॉजी ( Haematology ) : रक्त के अध्ययन संबंधी विज्ञान ।
  8. हैपेटोलॉजी ( Hepatology ) : यकृत ( Liver ) के अध्ययन संबंधी विज्ञान ।
  9. हरपेटोलॉजी ( Herpetology ) : रेंगने वाले जन्तुओं से संबंधी विज्ञान ।
  10. ऊतिकी ( Histology ) : ऊतकों ( Tissues ) के अध्ययन संबंधी विज्ञान ।
  11. उद्यान विज्ञान ( Horticulture ) : फूल – फल , सब्जियों , सजावट के पौधों ( Ornamental plants ) आदि के उगाने एवं प्रबन्धन का विज्ञान ।
  12. द्रवगतिकी ( Hydrodynamics ) : गतिशील द्रव के अध्ययन का विज्ञान ।
  13. द्रवस्थैतिकी ( Hydrostatics ) : स्थिर द्रव के अध्ययन से संबंधित विज्ञान ।
  14. जल कृषि ( Hydroponics ) : यह मृदा – रहित कृषि के अध्ययन का विज्ञान है ।
  15. काइनेस्थेटिक ( Kinesthetics ) : शरीर के भाव – भंगिमाओं को देखकर मन की भाषा जानने संबंधी अध्ययन का विज्ञान ।
  16. धातुकर्म विज्ञान ( Metallurgy ) : धातु के अयस्क ( Ore ) से शुद्ध धातु – निष्कर्षण ( Extraction ) की विधियों का अध्ययन ।
  17. माप विज्ञान ( Metrology ) : माप एवं तौल ( Weights and Measures ) की विधियों के अध्ययन संबंधी विज्ञान ।
  18. मौसम विज्ञान ( Meterology ) : वायुमंडल में मौसम संबंधी होने वाले परिवर्तनों का अध्ययन
  19. सूक्ष्म – जैविकी ( Microbiology ) : जीवाणु , विषाणु , इत्यादि सूक्ष्म जीवों के अध्ययन संबंधी विज्ञान ।
  20. आकारिकी ( Morphology ) : इसके अंतर्गत जीवों की आकृति तथा उनकी बाहा रचनाओं का अध्ययन किया जाता है ।
  21. कवक विज्ञान ( Mycology ) : इसके अंतर्गत कवकों ( Fungi ) का अध्ययन किया जाता है ।
  22. ऑब्सटेट्रिक्स ( Obstetrics ) : गर्भाधान , प्रसव एवं बच्चे के जन्म से संबंधित विज्ञान का अध्ययन ।
  23. दन्त विज्ञान ( Odontology ) : दन्त की उत्पत्ति , संरचना , विन्यास एवं उसके रोगों के अध्ययन संबंधी विज्ञान ।
विज्ञान की विभिन्न शाखाएँ एवं ...
Advertisements
Advertisements

Advertisements

page 4

  • ओंकोलॉजी ( Oncology ) : इसमें कैंसर रोग का अध्ययन किया जाता है ।
  • प्रकाशिकी ( Optics ) : प्रकाश की प्रकृति , गुण , आदि के अध्ययन संबंधित भौतिक शास की एक शाखा
  • ऑप्थाल्मोलॉजी ( Opthalmology ) : आँख व उसके रोग से संबंधी अध्ययन का विज्ञान ।
  • पक्षी विज्ञान ( Ornithology ) : इसके अंतर्गत पक्षियों के स्वभाव , व्यवहार एवं उन पर पर्यावरण के प्रभाव का अध्ययन किया जाता है ।
  • ओरोलॉजी ( Orology ) : पर्वतों के अध्ययन का विज्ञान ।
  • ऑर्थोपेडिक्स ( Orhopaedies ) : इसके अंतर्गत पेशीय कंकाल तंत्र की रचना , विकास एवं उसके रोगों का अध्ययन किया जाता है ।
  • ऑलफैक्टोलॉजी ( Olfactology ) : इसके अंतर्गत गंध की संवेदनाओं का अध्ययन किया जाता है ।
  • पेलियोबॉटनी ( Palaeobotany ) : पौधों के जीवाश्मों ( Fos sils ) के अध्ययन का विज्ञान ।
  • प्रकाश जैविकी ( Photobiology ) : जीवों पर प्रकाश के विज्ञान का अध्ययन ।
  • फ्रेनोलॉजी ( Phrenology ) : मानव के कपाल या खोपड़ी ( Skull ) एवं मस्तिष्क ( Brain ) के अध्ययन का विज्ञान ।
  • थिसियोलॉजी ( Phisiology ) : इसके अंतर्गत क्षय रोग ( Tu berculosis – T.B . ) का अध्ययन किया जाता है ।
  • शैवाल विज्ञान ( Phycology ) : इसके अंतर्गत शैवालों का अध्ययन किया जाता है ।
  • शरीर क्रिया विज्ञान ( Physiology ) : इसके अंतर्गत सजीवों की विभिन्न जैविक प्रक्रियाओं जैसे- श्वसन , वृद्धि , पोषण आदि का अध्ययन किया जाता है ।
  • पादप विकास विज्ञान ( Phytogeny ) : पौधों की उत्पत्ति एवं उनके विकास के अध्ययन का ज्ञान ।
  • फल – कृषि विज्ञान ( Pomology ) : इसके अंतर्गत फलों के उत्पादन , वृद्धि , सुरक्षा एवं उनकी नस्ल सुधार का अध्ययन किया जाता है । .
  • विकृति विज्ञान ( Rheology ) : द्रव के विरूपण ( Deforma tion ) तथा उसके प्रवाह ( Flow ) के अध्ययन का विज्ञान ।
  • भूकम्प विज्ञान ( Seismology ) : भूकम्पों के कारण , विस्तार , पूर्वानुमान आदि के अध्ययन संबंधी विज्ञान ।
  • चन्द्र विज्ञान ( Selinology ) : इसके अंतर्गत चन्द्रमा की उत्पत्ति , उसकी सतह की बनावट एवं उसकी गति के अध्ययन का विज्ञान ।
  • रेशम कीटपालन विज्ञान ( Sericulture ) : रेशम के कीटों के पालने संबंधी अध्ययन ।
  • वर्गिकी ( Taxonomy ) : जन्तुओं और पौधों को उनकी संरचना एवं गुणों की समानता के आधार पर वर्गीकरण का विज्ञान ।
  • जाइमोलॉजी ( Zymology ) : इसके अन्तर्गत किण्वनों ( Fer mentations ) का अध्ययन किया जाता है ।

read also

gk blog

Rajaram-Mohan-Roy-a-social-reformer

SWAMI VIVEKANAND-ABOUT LIFE-SHORTBIOGRAPHY

magnetic properties in matters

maths Rs agarwal BEST quaintative APTITUDE PDF

BEST CAT PRAPaRATION PDFs By upkar prakashan

New RADIANT EDU-PRATIYOGITA DARPAN HINDI DOWNLOAD NOW!!

CBSE ISC BOARD TEST SERIES SCHEDULE PHYSICS PART 1

Physics part 1 test series🔴⭕ please note it carefully in your diary📓. TEST SR NO. TOPIC DATE TEST 1 EMW 8 jan TEST 2 AC 1st 12 jan TEST 3 AC 2nd 14 jan TEST 4 EMI 16 jan TEST 5 MAGNETIC DIPOLE 18 jan TEST 6 REVISIONAL 20 jan TEST7 MAGNETISM 1st 22 jan […]

Rate this:

Magnetism notes for class 12th CBSE ICSE

Download fully specified ncert notes Click on button and download ncert extract notes for class 12th free 🆓 These notes are provided by nishant sir specially for New RADIANT STUDENTS. boost your preparation and make your foundation stronger….. Keep learning and be curious. READ MORE

Rate this:

Semiconductor n type – p type

Semiconductor Topic – n type, p type Class – 12th प्रश्न 1 : नैज अर्धचालक की संरचना समझाइये एवं इसमें धारा प्रवाह किस प्रकार होता है । उत्तर : नैज अर्धचालक ( pure semiconductor ) की संरचना सम चतुष्फलकीय होती है । किसी अर्द्धचालक की संरचना समझने के लिए जर्मेनियम ( Ge ) का उदाहरण […]

Rate this:

7 comments

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.